समझ नहीं आया


अच्छा लिखें आप लोग खिंचे आएंगे ,
बुरा  * लिखें आप लोग दूर जाएँगे।
घमंड न कर इंसान यह सब समझ जाएँगे,
अपने को हैवान न बना ये  सब समझ जाएँगे।
दुनिया को नई राह दिखा जाएँगे ,
ऐसा काम कर जाएँगे।
नाम से क्या मतलब है? अगर दुनिया को नई राह दिखा जाएँगे,
तब मानव,मानव बन जाएँगे इंसान कहला जाएँगे।
पच्चीस -पचास-पिच्छतर का यह जीवन क्यों बर्बाद कर जाएँगे?
सब मे सब का यह झलक दिखा जाएँगे ।
लाल न होने पाये यह धरती ऐसा प्रयास कर जाएँगे,
हरी-भरी धरती हो ऐसा संकल्प करवा जाएँगे।
तमसो माँ ज्योतिर्मय का दुनिया मे राज करवा जाएँगे,
तब विधाता का एक छोटा सा शिष्य कहलाएंगे।
न कोई मजदूर हो,न कोई मालिक यह बतलाने की कोशिश कर जाएँगे,
सब का मालिक एक है यह बतलाने की कोशिश कर जाएँगे।

–पूनम माथुर

* बुरा=कटु सत्य

Advertisements

10 comments on “समझ नहीं आया

  1. अच्छा लिखें आप लोग खिंचे आएंगे ,बुरा लिखें आप लोग दूर जाएँगे।घमंड न कर इंसान यह सब समझ जाएँगे,अपने को हैवान न बना ये सब समझ जाएँगे।सारगर्भित रचना….

  2. बिल्कुल सही, शत प्रतिशत ।

  3. संदेश स्पष्ट है।

  4. Bhushan says:

    मानवता से परिपूर्ण संदेश देती सुंदर रचना.

  5. ब्लोगर्स के लिए सार्थक सन्देश देती रचना ।बहुत सुन्दर ।

  6. रहा हौसला अगर यही,अमल पे लाने मेंनहीं तनिक संशय कि मंजिल हासिल कर जाएंगे

  7. सुंदर और अर्थपूर्ण बात पंक्तियाँ

  8. सार्थक सन्देश….सच्ची अभिव्यक्ति….सादर

  9. Reena Maurya says:

    बहुत ही सुन्दर,, सिख देती रचना

  10. सटीक बात ..अच्छा सन्देश

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s